• Latest Post: ISBM University Presented with the “Best Upcoming University” Award – 2018
  • Latest Post: SEMINAR ON CONSTITUTION DAY HELD AT ISBM UNIVERSITY
  • Latest Post: Attitude, Job Satisfaction, Personality & Values
  • Latest Post: Top 5 LLB Colleges in Chhattisgarh
  • Latest Post: ISBM University announces launch of Admissions
  • Latest Post: Why ISBM sponsored Futsal 2017?
  • Latest Post: The Long-term economic benefits of Social and Emotional learning
  • Latest Post: How can schools better target adult and First-generation college applicants?
  • Latest Post: How to connect with other students to achieve the Common goals
  • Facebook
  • twitter
  • linkedin
  • youtube

विश्व मानव अधिकार दिवस – आई एस बी एम विश्वविद्यालय

/विश्व मानव अधिकार दिवस – आई एस बी एम विश्वविद्यालय
ISBMU (2)

विश्व मानव अधिकार दिवस – आई एस बी एम विश्वविद्यालय

 

आई एस बी एम विश्वविद्यालय नवापारा (कोसमी) छुरा जिला-गरियाबंद में विश्व मानव अधिकार दिवस मनाया गया। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता श्रीमती पियाली चटर्जी (विधि विभाग) ने मानव अधिकार को जीवन की आत्मा बताते हुए कहा कि संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा घोषित मानव अधिकार विश्व का संविधान के सामान है, अधिकार और कर्तव्य को एक दूसरे का पूरक बताया। कार्यक्रम का शुभारंभ दीप जलाकर एवं ज्ञानदायनि मां सरस्वती को पुष्पांजलि अर्पित कर किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि श्री टी जी मधुसूदन उप-कुलसचिव, परीक्षा विभाग थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ पीयूष मेहता डीन विश्वविद्यालय ने किया, अपने उदबोधन में आपने अधिकार की व्याख्या किया। श्री भूपेंद्र कुमार साहू राजनीति विज्ञान विभाग ने स्वागत भाषण देते हुए विभाग द्वारा किये गये आयोजन का वर्णन किया तथा आगामी कार्यक्रम छत्तीसगढ़ विधानसभा के शीतकालीन सत्र का अवलोकन हेतु एक दिवसीय शैक्षणिक भ्रमण की जानकारी दिया। श्री भूपेश पात्र, कम्प्यूटर विभाग ने धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राएं क्रमशः जानकी बिप्रे, प्रेम कुमार मरकाम, महेंद्र कुमार यादव, कामनी नागेश बी. ए. प्रथम वर्ष, देवदामिनि, यामिनी टांडे, बी. एस. सी. प्रथम वर्ष, डिगेश्वरी साहू, भूनेश्वरी साहू बी. काॅम प्रथम वर्ष एवं आकाश जैन पी. जी. डी. सी. ए. ने विश्व मानव अधिकार दिवस पर अपने विचार व्यक्त किए। कामिनी नागेश, तुलसी ठाकुर एवं खिलेश्वरी ध्रुव ने सरस्वती वंदना तथा स्वागत गीत प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में विश्वविध्यालय के प्राध्यापक श्री ओ. पी वर्मा, डॉ गरिमा दीवान, श्रीमती ममता चंद्राकर, श्री डायमंड साहू, श्री गोकुल प्रसाद साहू एवं श्री रविंदर सिंह ग्रंथपाल तथा छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

 

 

Share